पहले टेस्ट में भारत को मिली शानदार जीत। अब WTC Final में पहुंचने के लिये दो टेस्ट मैच जीतना जरुरी।पहले टेस्ट में भारत को मिली शानदार जीत। अब WTC Final में पहुंचने के लिये दो टेस्ट मैच जीतना जरुरी।

नागपुर में खेले जा रहे बार्डर-गावस्कर टेस्ट सीरीज के पहले टेस्ट में भारत को शानदार जीत मिली। ICC Test Rankings में ऑस्ट्रेलिया पहले पायेदान पर और भारत दूसरे पायदान पर है। भारत की बल्लेबाजी और गेंदबाजी बहुत शानदार रही वहीं ऑस्ट्रेलिया की सिर्फ गेंदबाजी ही कुछ कमाल कर सकी नहीं तो बल्लेबाजी ने तो टीम की लुटिया ही डुबो रखी थी। टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला ऑस्ट्रेलियाई कप्तान Pet Cummins को परेशान कर रहा होगा क्योंकि उनकी टीम के दोनों सलामी बल्लेबाज एक-एक रन बनाकर पवेलियन की तरफ लौट गये। पहली पारी में ऑस्ट्रेलिया के 4 बल्लेबाज ही 30 रन से ऊपर का स्कोर बना सके और टीम के स्कोर को 177 तक पहुंचा सके। चोट के बाद भारतीय टीम में वापसी कर रहे रविन्द्र जडेजा ने अपनी शानदार गेंदबाजी से रही-सही कसर और निकाल दी विपक्षी टीम की।

पहले टेस्ट में भारत को मिली शानदार जीत। अब WTC Final में पहुंचने के लिये दो टेस्ट मैच जीतना जरुरी।

you may read this:

https://postliveindia.com/रिकार्ड-बार्डर-गावस्कर-ट/,

https://postliveindia.com/adam-gilchrist-said-australia-team-will-create-history-by-defeating-india/

खैर किसी तरह से ऑस्ट्रेलिया के बल्लेबाजों ने रन बनाकर अपने गेंदबाजों को खतरनाक गेंदबाजी करने का प्लान बनाया पर रोहित शर्मा ने उनकी यह हेकड़ी भी निकाल दी। और शानदार शतक जमाकर ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाजी की हवा निकाल दी। ऑस्ट्रेलिया के गेंदबाज T Murphy ने जरुर अपनी गेंदबाजी से भारतीय बल्लेबाजी की परीक्षा ली और 7 विकेट अपने नाम किये। रविन्द्र जडेजा ने बल्लेबाजी में भी शानदार 70 रन बनाये।

रविन्द्र जडेजा ने बल्लेबाजी में भी शानदार 70 रन बनाये।

भारत vs ऑस्ट्रेलिया नागपुर टेस्ट का स्कोरकार्ड: https://www.cricbuzz.com/live-cricket-scorecard/60009/ind-vs-aus-1st-test-australia-tour-of-india-2023

बार्डर-गावस्कर टेस्ट सीरीज: पहले टेस्ट में भारत को मिली शानदार जीत, पिच को लेकर ऑस्ट्रेलियाई पूर्व खिलाड़ी नाखुश

मैच शुरु होने से पहले ही ऑस्ट्रेलिया के कई पूर्व खिलाड़ी इस पिच पर सवाल ऊठा रहे थे। उनका कहना था कि पिच पर असमान उछाल है इसलिये यह पिच भारत के गेंदबाजों के लिये मद्दगार साबित हो सकती है। यदि पिच को न्यूट्रल बनाया जायेगा तो मेहमान टीम यह मैच जीत सकती है। खैर यह राय इन पूर्व दिग्गजों की मैच शुरु होने से पहले की थी। उनकी यह बात काफी हद तक सही भी साबित हुई लेकिन यहां खिलाड़ियों के प्रदर्शन का भी बड़ा रोल रहा। जिस पिच पर ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज रन को तरसते रहे, उसी पिच पर रोहित का शतक, जडेजा, अक्सर पटेल का अर्द्धशतक और मोहम्मद सामी की ताबड़तोड़ 37 रनों की पारी खेली गई।

WTC Final में पहुंचने के लिये दो टेस्ट मैच जीतना जरुरी।

चार टेस्ट मैचों की बार्डर-गावस्कर टेस्ट सीरीज में भारत पहला मैच जीत गया है और सीरीज में 1-0 की बढ़त बना ली है। ऑस्ट्रेलिया दूसरे टेस्ट में पलटवार करने में कोई कसर नहीं छोड़ेगी और भारत को उसके हर दाव को मात देनी होगी। यदि ऐसा नहीं हो सका तो WTC Final का टिकट दूसरी टीमों के मैच के रिजल्ट पर निर्भर हो जायेगा। भारत को यह टेस्ट सीरीज ड्रा नहीं खेलनी है। यहां भारत को यह सीरीज हर हाल में जीतने के लिये ही खेलना है तभी उसको कन्फर्म WTC का Final पास मिलेगा। ऑस्ट्रेलिया पहले ही WTC Final में जगह बना चुका है।

पहली पारी में खराब बल्लेबाजी बनी हार की वजह: स्टीव स्मिथ

ऑस्ट्रेलिया के सीनियर खिलाड़ी स्टीव स्मिथ ने इस हार के लिये टीम की पहली पारी की बल्लेबाजी को प्रमुख वजह माना है। उन्होने कहा कि पिच में पहले दिन जरुर कुछ असमान उछाल था लेकिन तीसरे दिन यह पिच बल्लेबाजी के लिये काफी अच्छी हो चुकी थी। पहली पारी में महज 177 रन बनाकर विपक्षी टीम को अपने पर हावी करवा दिया और यह मैच हमसे दूर होता चला गया।


By Pradeep

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *