भारत हार के करीब था और लिटन दास का रन आउट इस मैच का टर्निंग प्वाइंट साबित हुआ और भारत यह मुकाबला 5 Runs (DLS Method) से जीत गया। 184 रन के लक्ष्य का पीछा करने उतरी बांग्लादेशी टीम ने शानदार शुरुआत करते हुये 7 ओवर में 66 रन बना लिये थे, लिटन दास ने 60 रन पर खेल रहे थे तभी बारिश होने लगी और मैच लगभग 40 मिनट के बाद फिर शुरु हुआ। Ind vs Ban T20WC ने कई लोगों की सांसे रोक दी होगी पर इन सब में भारत को जीत नसीब हुई।

भारत की बैटिंग को ज्यादा तेज रन गति नहीं मिल सकी।

टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का फैसला करना बांग्लादेश के कप्तान शाकिब के लिये सही साबित हुआ और रोहित शर्मा (2 रन) को जल्दी ही पवेलियन भेज दिया। अपनी फार्म की तलाश कर रहे KL Rahul ने 50 रन बनाये। विराट कोहली तो, जबसे फार्म में आये हैं तब से उनका बल्ला रन ही उगल रहा है। उनका विकेट कोई नही ले सका वे 64 रन पर नाबाद लौटे। सूर्यकुमार यादव ने 16 गेंदों पर ताबड़तोड़ 30 रन बनाये। इसके बाद ना तो हार्दिक पांडया (5 रन), ना ही दिनेश कार्तिक (7 रन) और ना ही अक्सर पटेल (7 रन) विराट कोहली के साथ कोई पार्टनरशिप नहीं कर सके। इस समय लगने लगा था कि भारत 160 के स्कोर तक ही पहुंच पायेगा। पर रविचन्द्र अश्विन ने कमाल कर दिया। उन्होने 6 गेंदों पर 13 रन बनाये। इस तरह भारत ने 6 विकेट पर 184 रन बनाये। भारत को उम्मीद थी कि स्कोर को 200 रन के पार पहुंचाया जाये पर बांग्लादेश ने समय समय पर विकेट लेकर उसे रनों का अम्बार लगाने से रोक दिया।

Ind vs Ban T20WC: बांग्लादेश की आतिशी बल्लेबाजी

184 रन को देखकर बांग्लादेश की बल्लेबाजी के बिखर जाने की उम्मीद हर कोई लागए हुये था लेकिन सलामी बल्लेबाज लिटन दास के मन में कुछ और ही चल रहा था। उन्होने हर ओवर में 10 रन/ओवर की गति को बनाये रखा और मैदान के हर क्षेत्र में चौक्के-छक्के की बारिश करते रहे। यह मैच भारत की झोली से निकल ही चुका था। 7वां ओवर खत्म ही हुआ था और स्कोरबोर्ड पर 66 रन बने थे जिसमें अकेले 60 रन लिटन दास के थे कि बारिश होने लगी।

बारिश ने बढ़ाया रोमांच

40 मिनट के बाद जब मैच शुरु हुआ तो DLS Method का नियम लग गया। और अब संशोधित स्कोर था 151रन जिसको 16 ओवर में पूरा करना था। मतलब कि शेष बचे 8 ओवर में 85 रन बनाना। यदि बारिश फिर शुरुहो जाती, तो भारत यह मैच 17 से हार जाता क्योंकि DLS के अनुसार भारत बांग्लादेश से 17 रन पीछे था। खैर मैच पर आते हैं। मैंच शुरु हुआ और 2 गेंद बाद ही दो रन लेने के चक्कर में लिटन दास रन आउट हो गये। तब बांग्लादेश का स्कोर 68 रन हुआ था। एक तरफ शान्टो थे और दूसरी तरफ नये बल्लेबाज के तौर पर आये कप्तान शाकिब अल हसन थे।लेकिन शाकिब ज्यादा नहीं टिक सके और 13 रन पर आउट हो गये। फिर जो भी बल्लेबाज लक्ष्य का पीछा करने उतरा उसने अंधाधुंध बल्ला चलाया जिससे बड़े शाट लगे लेकिन टीम को जीत नहीं मिल सकी। और बांग्लादेश की टीम 20 ओवर में 6 विकेट पर 145 रन बना सकी और 5 रन से यह मैच हार गई।

इस जीत के साथ ही भारत के सेमीफाइनल में जगह बनाने की संभावना प्रबल हो चुकी है।

आखिर क्या है शाकिब का दुख

बांग्लादेश के कप्तान शाकिब अल हसन ने मैच के बाद कहा कि हर बार ऐसा ही कुछ ना कुछ हो जाता है जिससे हम मैच जीतते जीतते हार जाते हैं। उन्होने आगे कहा कि भारत के साथ जब भी मैच होता है तो ऐसे कई मौके बनते हैं जिससे हम मैंच में आगे हो जाते हैं और जीत की तरफ बढ़ रहे होते हैं और तभी कुछ ना कुछ (बारिश, रन आउट और हड़बड़ाहट) से हम से जीत दूर हो जाती है। कप्तान ने कहा कि मैच में एक टीम की जीत और एक टीम की हार होती ही है पर हमारे साथ हर बार यही होता है जब भी भारत के साथ मैच होता है।

By Pradeep

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *